• 12:46 am
  • Help Desk

डीजी लॉकर| DigiLocker

भारत सरकार के ट्रांसपोर्ट एवं आईटी डिपार्टमेंट द्वारा तकनीकी क्षेत्र में विस्तार की नई योजनाबद्ध ई-सर्विसेज है डीजी लॉकर। डीजी लॉकर का उपयोग से कागजों को यहां वहां उठाकर ले जाने उन्हें संभाल कर रखने की दिक्कतों से छुकटारा दे देगा। सरकार भकी नई व्यवस्था का लाभ हर कोई उठा सकता है। डीजी लॉकर पूरी तरह से सुरक्षित और आसानी से अपनाई जा सकने वाली व्यवस्था है। डीजी लॉकर से सीधे जुडऩे के लिए आधार कार्ड का होना आवश्यक है। इसके माध्यम से कोई भी डीजी लॉकर में अपना ऑनलाईन अकाऊंट बना सकता है और अपने दस्तावेजों को सुरक्षित रख सकता है। इसका सबसे बड़ा फायदा है कि वाहन, ड्राईविंग व शैक्षणिक दस्तावेजों को सुरख्क्षित तरीके से संरक्षित रखा जाना। डीजी लॉकर सरकार द्वारा प्रमाणित ई सुविधा है, जो सरकारी स्तर पर स्वीकार्य भ्भी है। भविष्य में डीजी लॉकर से अनेक फायदे होंगे और नागरिकों को अपने दस्तावेजों को ई सर्विसेज के माध्यम डीजी पोर्टल को जोड़ा जाएगा। डीजी लॉकर का उपयोग में आसानी इसे बेहद स्टीक और उपयोगी ऑनलाईन सर्विस बनाता है।


डीजी लॉकर कैसे काम करता है?

डीजी लॉकर हाल ही में शुरू सर्विस है और इसके काम करने को लेकर लोगों में संशय है। डीजी लॉकर का उपयोग करने के लिए सबसे पहले डीजी लॉकर की ऑफिशियल वेबसाईट पर जाना होता है। मोबाईल उपभोक्ता सीधे गूगल प्ले स्टोर से डीजी लॉकर की ऐप डाऊनलोड करके इसमें अकाऊंट बना सकतें है। इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी दस्तावेज है आधार कार्ड नंबर और आधार कार्ड में दिया गया मोबाईल नंबर अथवा ईमेल आईडी। इन दोनों के माध्सम से नया अकाऊंट बना कर साईन इन करना होता है। इसके बाद आवेदक को संबंधित निर्देशों की पालना करनी होती है और अपने दस्तावेजों की ईमेज अपलोड करनी होती है। डीजी लॉकर के माध्यम से कोई भी व्यक्ति दस्तवेजों की सॉफ्टकॉपी किसी को भी दिखा सकते है या सरकारी तोर पर प्रस्तुत किये जा सकते है ।

डीजी लॉकर में अकाऊंट बनाने के लिए क्लिक करें-

 https://digilocker.gov.in/public/register

 

सरकार के विभागों से जुड़ा डीजी लॉकर

डीजी लॉकर सरकारी स्तर की कई विभागों की वेबसाईट से जुड़ा हुआ है। जिससे कई सुविधाएं जैसे पेन कार्ड, वाहन की आरसी, लाईसेंस कॉपी, पास्पोर्ट, वोटर र्कार्ड, ड्राईविंग लाईसेंस, एजुकेशन से जुड़े दस्तावेजों को महज संबंधित जानकारी देकर ही डीजी लॉकर में अपलोड किया जा सकता है। डीजी लॉकर में एक व्यक्ति एक ही अकाऊंट बना सकता है। इसके अलावा जमीन से जुड़े कागजात व किसी भी प्रकार कोई कागजी दस्तावेज दुनिया में कहीं से भ्भी डीजी लॉकर पर किया जा सकता है।

मोबाईल पर कैसे बनाएं डीजी लॉकर अकाऊंट

डीजी लॉकर पर अकाऊंट बनाने और उसमें अपने डीजीटल डोक्यूमेंट डालने की स्टेप बाई स्टेप ट्यूटोरियल आप नीचे देखें।
मोबाईल यूजर के लिए-

मोबाईल उपभोक्ता सबसे पहले डीजी लॉकर को डाऊन लोड करने के लिए गूगल प्लेस्टोर खोलें और एप्लीकेशन को मोबाईल में इंस्टाल करें-



एप्लीकेशन आपेन करने पर साईनअप और साईनइन दो ऑपशन सामने होंगे।


नये अकाऊंट के लिए सााईन अप करें जबकि जबकि पहले से अकाऊंट वाला साईन इन करे-

सबसे पहले यूजर का अकाऊंट नेम इंटर करें-

इसके बाद सक्रीन पर आधार कार्ड नंबर व मोबाईल नंबर इंटर करने का ऑप्शन होगा।



इसके बाद इंटर करते ही मोबाईल पर ओटीपी आएगा और ओटीपी मांगे गए स्थान पर इसे भर कर नया अकाऊंट काम करने लगेगा।

इसके बाद उपयोगकर्ता अपने दस्तावेजों को अपलोड कर सकेगा और डीजी लॉकर का यह अकाऊंट पूरी तरह से काम करने लगेगा।

डीजी लॉकर के फायदे

  1. डीजी लॉकर आपको कांगजो को यहां वहां उठाकर ले जाने की समस्या से निजात दिलवाता है।
  2. डीजी लॉकर का सरकारी वेबसाईट से जुड़ा होना दस्तावेजों की सत्यता को प्रमाणित कर सकेगा।
  3. सरकारी विभागों में यह स्वीकार्य है।
  4. मूल दस्तावेजों को साथ लेकर घूमने की आवश्यकता नहीं।
  5. विशेषकर वाहन चालकों को फायदा होगा, पुलिस कागजात की वेरीफीकेशन डीजी लॉकर के माध्यम से हो सकेगी।

Advertisement

हिंदी में ताज़ा नौकरी समाचार ईमेल पर पायें - It's Free !

फेसबुक पर हिंदी में जॉब अपडेट के लिए लाइक करें

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *